किसान मुक्ति मार्च में शामिल हों

29-30 नवम्बर दिल्ली चलो!

AIKSSC march
AIKSSC march

2014 के चुनावों से पहले मोदी सरकार ने किसानों की पूर्ण कर्ज माफी और खेती की सम्‍पूर्ण लागत के ऊपर 50 प्रतिशत मुनाफा जोड़ कर न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य देने का वायदा किया था. भारी कृषि संकट और किसान आत्‍महत्‍याओं से पूरा देश परेशान था तब अनेकों लोक-लुभावन वायदे कर मोदी सरकार ने बहुमत पा लिया. लेकिन देश के किसानों को इस सरकार ने और ज्‍यादा संकट में डाल दिया है. अब यह सरकार सारी नीतियां किसानों के खिलाफ बना रही है, लगातार झूठ बोल रही है और यहां तक कि किसानों को अपमानित भी कर रही है.


Continue reading

Pollution is for Everyone, But Victims are the Commoners!!

Smog in Delhi
Smog in Delhi – Vijay Verma

Autumn arrives Delhi with its signature—hazy sky, rising pollution, smoggy atmosphere; and sooner, with the first stroke of the winter, Delhi’s air becomes heavily loaded with polluting particles. Right after Diwali the situation becomes worse. This year also has been no different—N 95 masks have already made their place on the faces of those who walks on the streets, travel for their daily livelihood and so on. 


Continue reading

Malviya Nagar Lynching of 8 year old : A Fact Finding Report

Mohammad Azeem, an eight years old boy was beaten to death allegedly by a group of minor boys on 25th October in Malviya Nagar area. Azeem was studying at the Jamia Faridiya Madrasa located in Malviyanagr area. He was one of those 70 students at the Madrasa who come to study from very poor backgrounds. The news of the death of Azeem comes in the backdrop of numerous incidents of mob lynching and anti-muslim hate mongering in the country orchestrated by the ruling party BJP and RSS networks. A CPI-ML, CPIM, AIDWA and AISA team consisting of Comrade Sehba, Sucheta, Kawalpreet, Maimoona Molha, Kavita Sharma, Subir Mukherjee, Somdust Sharma, Abdul Mannan Siddiqui and Abu Maaz visited the Madrasa where Azeem stayed and the adjacent Valmiki colony on 26th October.


Continue reading

#Metoo Movement Shakes Up All Pervasive Patriarchy

MeToo poster
Representative Image

The MeToo movement against sexual harassment and work place sexism has arrived in India. The movement started in America last year this month itself when allegations of serial sexual harassment against film producer in Hollywood Harvey Weinstein emerged. The brave account of survivors of harassment by Harvey started a ripple effect and women in different professions spoke up about sexual harassments faced by them. The MeToo moment in America was being keenly observed by women in India as well as across the globe. And today, that moment has begun here. The solidarity that has built up among women has created an enabling atmosphere to challenge patriarchal and unjust power.  The Me Too movement is also a reminder that sexism has to be fought everywhere, including the progressive institutions/spaces. 


Continue reading

गंगा को बचाने के लिए अनशनरत प्रो. गुरुदास अग्रवाल नहीं रहे!

G.D Agarwal forcibly taken to hospital by police
G.D Agarwal forcibly taken to hospital by police

 गंगा को बचाने के लिए 112 दिनों से अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठे पूर्व आईआईटी प्रोफ़ेसर और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सचिव प्रोफ़ेसर जी. डी. अग्रवाल (स्वामी सानंद ) ने कल 11 अक्टूबर 2018 को अपनी अंतिम साँस ली. स्वघोषित गंगापुत्र नरेंद्र मोदी की सरकार द्वारा प्रो. अग्रवाल की मांगों को बहुत ही बेशर्मी से अनदेखा किया गया है। प्रो. अग्रवाल को प्रदूषित गंगा को स्वच्छ करने की लड़ाई लड़ने वाले योद्धा के रूप में याद किया जाएगा तो मोदी सलीके नेताओं को ‘गंगा मइया’ का नाम अपने राजनीतिक लाभ के लिए। गाँधी जी से प्रेरित प्रो. अग्रवाल इसके पूर्व गंगा नदी को बचाने के लिए कई आंदोलन कर चुके हैं। गंगा के अथक प्रचारक ने बेहद तर्कपूर्ण ढंग से कहा कि नदी की अविरल धारा (निर्बाध प्रवाह) पूरी नदी घाटी के लिए जरूरी है. नदी पर बन रहे अनियंत्रित बांधों की वजह से गंगा में तलछट (पानी से निकलने वाली गंदगी) बढ़ रही है, यही कारण है कि लगातार बाढ़ का खतरा भी बढ़ रहा है। 


Continue reading

Prof Agarwal Laid Down His Life to Save Ganga

G.D Agarwal forcibly taken to hospital by police
G.D Agarwal forcibly taken to hospital by police

Brazenly ignored by the Modi Government, former IIT Professor and Secretary of Pollution Control Board, Professor G.D. Agarwal (Swami Sanand) laid down his life yesterday, 11 Oct 2018, for the sake of saving the Ganga after 112 days of uninterrupted fasting. While politicians like Narendra Modi blatantly used the name of ‘Ganga Maiyya’ only to garner votes, the entire country will forever remember Professor G.D. Agarwal’s supreme sacrifice to save the critically polluted river.


Continue reading

मोदी के गुजरात मॉडल का नया निशाना : “प्रवासी मजदूर”

People boarding train
Migrant workers fleeing

पिछले कुछ दिनों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अपने राज्य गुजरात से उत्तर प्रदेश, बिहार व मध्य प्रदेश के मजदूरों को “आउटसाइडर” बताकर भगाया जा रहा, हिंसक हमले किये जा रहे हैं। 28 सितम्बर को गुजरात के साबरकांठा जिले में प्रवासी मजदूर द्वारा कथित तौर पर नाबालिग लड़की के साथ बलात्कार की घटना हुई। घटना के बाद गुजरात के साबरकांठा, पाटन, मेहसाणा, गांधीनगर व अरावली जैसे जिलों में काम करने वाले प्रवासी मजदूरों पर रॉड, पत्थर से हमले शुरू हो गए। उनके खिलाफ सोशल मीडिया पर घृणित सूचनाएं फैलाई जा रही है।


Continue reading

Migrant Workers Are the Latest Targets of “Gujarat Model”

People boarding train
Migrant workers fleeing

In the last few days, thousands of migrant workers from Bihar, Uttar Pradesh and Madhya Pradesh have been venomously targeted as “outsiders” and brutally attacked in the Prime Minister Narendra Modi’s home state Gujarat. Migrants are being targeted and beaten with sticks and stone, and hate messages are being circulated on social media after a migrant from Bihar was arrested for allegedly raping a minor in Sabarkantha district, Gujarat on September 28. Several districts in Gujarat have been affected by this massive violence – Sabarkantha, Patan, Mehsana, Gandhinagar and Aravalli.


Continue reading

The Struggle to Find Najeeb and Justice for Najeeb Will Continue

Najeeb Photograph
Najeeb Ahmed

In an immensely disappointing development today, the Delhi High Court has disposed Fatima Nafees’ habeas corpus petition regarding her missing son Najeeb Ahmed and allowed CBI to file a closure report. The plea to transfer the case to a Special Investigation Team (SIT) has been declined by the Delhi HC.


Continue reading

डूसू चुनाव 2018: AISA-CYSS का संयुक्त घोषणापत्र

Alliance of AISA and CYSS in DUSU election 2018
Alliance of AISA and CYSS in DUSU election 2018

गुंडागर्दी, निजीकरण और यौन हिंसा का विरोध् करें
बेहतर शिक्षा-बेहतर सुविध के लिए आम छात्रों का आन्दोलनकारी डूसू  चुने

दोस्तों,
आने वाले 12 सितम्बर को होने वाले डूसू चुनावों में आम छात्रों के मुद्दे को पुरजोर ढंग से उठाने और डूसू में एक ऐतिहासिक बदलाव लाने के लिए AISA और CYSS ;आम आदमी पार्टी की छात्रा इकाई ने साथ मिलकर चुनाव लड़ने का फैसला किया है. विश्वविद्यालय में ABVP और NSUI की
गुंडागर्दी के कारण यहां के शिक्षकों, छात्रो एवं यहां के कर्मचारियों के बीच से बदलाव की,एक सकारात्मक राजनीति की मांग उठ रही थी, उन सभी की भावनाओं को देखते हुए हमने ये फैसला लिया है कि AISA और CYSS मिलकर चुनाव लड़ेंगे। AISA और CYSS के संयुक्त पफैसले के अनुसार अध्यक्ष- उपाध्यक्ष के पद पर AISA के प्रत्याशी और सचिव-उपसचिव के पद
पर CYSS के प्रत्याशी चुनाव लड़ेंगे।

Continue reading